Thursday, March 12, 2009

पापा कहते हैं

पापा कहते हैं बड़ा नाम करेगा
बेटा हमारा इंजिनियर बनके ऐसा काम करेगा
मगर यह तो कोई ना जाने
की कितने लटक लटक के ये कॉमपार्टमेंट हटाई हे
रोज रातो मे दोस्तो क साथ जग जग के कितने पर्चिया बनाई हे
कितनी मुस्किल से ये डिग्री पाई हॅ

7 comments:

  1. आप तो गजब कर रही हैं

    ReplyDelete
  2. नेहा जी अगर आप वही है जो नाम लिखा है , तो आपको सबसे पहेले धन्यवाद मेरे ब्लाग से जुड्ने के लिए और होली के इस रंग-बिरंगे पर्व पर आपको व् आपके परिवार के समस्त सदस्यों को हार्दिक बधाई ........

    ReplyDelete
  3. very true

    poems bahut achi hain
    ab se me will visit daily here

    ReplyDelete
  4. bilkul sahi likha...par kaash ise log samajh paate..aajkal digree kaise milti hai..ye wo kya jaane?

    ReplyDelete
  5. पापा लोग अक्सर बहुत कुछ चाहते हैं....और उनका यह चाहना बच्चों को बेहद प्रेशर में ला देता है.....और प्रेशर अक्सर जिंदगी को बहुत उद्वेलित कर देता है...बच्चे जिन्दगी के साथ कदम नहीं मिला पाते....तो जिंदगी ही ख़त्म कर लेते हैं.....पापा अक्सर हार जाते हैं....क्या करे जिंदगी ही ऐसी है....!!

    ReplyDelete
  6. वाह मजेदार

    ReplyDelete

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails